क़ुरान में साफ़ लिखा है, गैर मुसलमानो की हत्या जायज़ है, यही कारण है कि कोई भी मुसलमान किसी भी आतंकी मुसलमान का विरोध नहीं…