Dekhe Mai Chhabi Ati Vichitra Hari Ki देखे मैं छबी आज अति बिचित्र हरिकी देखे मैं छबी आज अति बिचित्र हरिकी ॥ध्रु०॥ आरुण चरण कुलिशकंज…