Mai Toh Prem Deewani Mero Dard Na Jaanai Koye मैं तो प्रेम-दिवानी मेरो दरद न जाणै कोय

Mai Toh Prem Deewani Mero Dard Na Jaanai Koye

मैं तो प्रेम-दिवानी मेरो दरद न जाणै कोय

हे री मैं तो प्रेम-दिवानी मेरो दरद न जाणै कोय।
घायल की गति घायल जाणै जो कोई घायल होय।

जौहरि की गति जौहरी जाणै की जिन जौहर होय।
सूली ऊपर सेज हमारी सोवण किस बिध होय।

गगन मंडल पर सेज पिया की किस बिध मिलणा होय।
दरद की मारी बन-बन डोलूं बैद मिल्या नहिं कोय।

मीरा की प्रभु पीर मिटेगी जद बैद सांवरिया होय।

I want such articles on email

Now Give Your Questions and Comments:

Your email address will not be published. Required fields are marked *