Tag Archives: Krishna Bhajan Lyrics

Jab Koi Nahi Aata Mere Shyam Aate Hai - जब कोई नहीं आता मेरे श्याम आते हैं

Jab Koi Nahi Aata Mere Shyam Aate Hai

जब कोई नहीं आता , मेरे श्याम आते हैं Jab Koi Nahi Aata Mere Shyam Aate Hai मेरे दुःख के दिनों में वो , बड़े काम आते हैं जब कोई नहीं आता , मेरे श्याम आते हैं | मेरी नैया चलती है , पतवार नहीं होती किसी और की अब मुझको , दरकार नहीं
ओ भगवान को भजने वाले O Bhagwan Ko Bhajnewale

O Bhagwan Ko Bhajnewale

ओ भगवान को भजने वाले O Bhagwan Ko Bhajnewale ओ भगवान को भजने वाले धर ले मन में ध्यान भाव बिनु मिले नहीं भगवान दुर्योधन की छोड़ी मेवा विदुरानी की भा गयी सेवा श्रध्हा और समर्पण से ही रीझै है भगवान भाव बिनु मिले
राधे राधे बोल श्याम भागे चले आयंगे, Radhe Radhe Bol Shyam Bhaage Chale Aayenge

Radhe Radhe Bol Shyam Bhaage Chale Aayenge

राधे राधे बोल श्याम भागे चले आयंगे Radhe Radhe Bol Shyam Bhaage Chale Aayenge राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे। एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥ सात स्वर्ग पांच अपवर्ग ठुकरायेंगे । बैकुंठ की भी कम्मना ना उर लायेंगे
मुख देखन हों आई लाल को - Mukh Dekhan Ho Aayi Lal Ko

Mukh Dekhan Ho Aayi Lal Ko

मुख देखन हों आई लाल को Mukh Dekhan Ho Aayi Lal Ko मुख देखन हों आई लाल को। मुख देखन हों आई लाल को। काल मुख देख गई दधि बेचन जात ही गयो बिकाई ॥१॥ दिन ते दूनों लाभ भयो घर काजर बछिया जाई। आई हों धाय थंभाय साथ की मोहन देहो
मेरी लगी श्याम संग प्रीत, ये दुनिया क्या जाने Meri Lagi Shyam Sang Preet, Yeh Duniya Kya Jaane

Meri Lagi Shyam Sang Preet, Yeh Duniya Kya Jaane

मेरी लगी श्याम संग प्रीत, ये दुनिया क्या जाने Meri Lagi Shyam Sang Preet, Yeh Duniya Kya Jaane मेरी लगी श्याम संग प्रीत.. ये दुनिया क्या जाने... मुझे मिल गया मन का मीत.. ये दुनिया क्या जाने... छवि देखी मैंने श्याम की जब से.. भई बांवरी
मीठे रस से भरी रे राधा रानी लागे Meethe Ras Se Bhari Radha Rani Laage

Meethe Ras Se Bhari Radha Rani Laage

मीठे रस से भरी रे राधा रानी लागे Meethe Ras Se Bhari Radha Rani Laage मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे, मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे | यमुना मैया कारी कारी राधा गोरी गोरी | वृन्दावन में धूम मचावे बरसाना री छोरी
तेरे मन में राम तन में राम रोम रोम में राम रे Tere Man Mein Raam, Tan Mein Raam, Rom Rom Mein Raam Re

Tere Man Mein Raam, Tan Mein Raam, Rom Rom Mein Raam Re

तेरे मन में राम तन में राम रोम रोम में राम रे Tere Man Mey Ram, Tan Mey Ram, Rom Rom Mey Ram Re दोहा: राम नाम की लूट है, लूट सके तो लूट । अंत समय पछतायेगा, जब प्राण जायेंगे छूट ॥ तेरे मन में राम, तन में राम, रोम रोम में राम रे, राम
ज़रा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यों Zara Itna Batade Kanha Tera Rang Kaala Kyun

Zara Itna Batade Kanha Tera Rang Kaala Kyun

ज़रा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यों Zara Itna Batade Kanha Tera Rang Kaala Kyun ज़रा इतना बता दे कान्हा, तेरा रंग काला क्यों। तू काला होकर भी जग से निराला क्यों॥मैंने काली रात को जन्म लिया। और काली गाय का दूध पीया। मेरी
मत कर तू अभिमान रे बंदे, झूठी तेरी शान रे । Mat Kar Tu Abhimaan Re Bande Jhooti Teri Shaan Re

Mat Kar Tu Abhimaan Re Bande Jhooti Teri Shaan Re

मत कर तू अभिमान रे बंदे, झूठी तेरी शान रे । Mat Kar Tu Abhimaan Re Bande Jhooti Teri Shaan Re मत कर तू अभिमान रे बंदे, झूठी तेरी शान रे । मत कर तू अभिमान ॥ तेरे जैसे लाखों आये, लाखों इस माटी ने खाए । रहा ना नाम निशान रे बंदे, मत
दर्शन दो घनश्याम नाथ मोरी अँखियाँ प्यासी रे - Darshan Do Ghansyam Naath Mero Akhiyan Pyasi Re

Darshan Do Ghansyam Naath Mero Akhiyan Pyasi Re

दर्शन दो घनश्याम नाथ मोरी अँखियाँ प्यासी रे Darshan Do Ghansyam Naath Mero Akhiyan Pyasi Re दर्शन दो घनश्याम नाथ मोरी, अँखियाँ प्यासी रे | मन मंदिर की जोत जगा दो, घाट घाट वासी रे || मंदिर मंदिर मूरत तेरी, फिर भी न दीखे सूरत तेरी
121 queries in 4.496 seconds.